Skip to content
Home » काले कावा काले घुघुती माला खा ले गीत के बोल | kale kawa kale ghughuti mala khale lyrics

काले कावा काले घुघुती माला खा ले गीत के बोल | kale kawa kale ghughuti mala khale lyrics

काले कावा काले घुघुती

मकर संक्रांति पर्व को उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में घुघुतिया पर्व के रूप में मनाया जाता है। घुघुतिया के दिन आटे और गेहूं से मिश्रित एक खास पकवान बनाया जाता है जिसे घुघुत कहते हैं। इन घुघुतों को बच्चे दूसरे दिन घुघुतिया त्यौहार के गीत , ” काले कावा काले घुघुती माला खा ले ” गा कर कौओ को खिलाते हैं। जगह -जगह  उत्तरायणी मेले आयोजित किये जाते हैं। सांस्कृतिक प्रोग्राम होते हैं। हर्षोउल्लास से मकर सक्रांति के स्थानीय सांस्कृतिक रूप घुघुतिया त्यौहार मनाया जाता है।

amazon holi sale

घुघुत उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में फाख्ता या अबाबील पक्षी को कहा जाता है। आटे और गुड़ के घोल को गूँथ कर प्रतीकात्मक घुघुतिया बनाये जाते हैं। इस पोस्ट में घुघुतिया त्यौहार पर गाये  जाने वाले लोकगीत का संकलन किया हैं। उत्तराखंड के लोक त्यौहार के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए दिए यहाँ देखें – घुघुतिया त्यौहार क्या है ? और कैसे मनाया जाता है ?

काले कावा काले घुघुती
photo reference -https://devbhoomidarshan.in/kale-kawa-kale-ghughuti-mala-kha-le

घुघुतिया त्यौहार पर गाये जाने वाले लोक गीत के बोल ( lyrics ) –

काले कावा काले घुघुत की माला खा ले।

लै कावा बोड़ , मिकै दै सुनु घ्वाड़।

काले कावा …

लै कावा लागोड़ , मिकै दै भाई बैणियों दगड़।

लै कावा भात ,मिकै दै सुनक थात।

लै कावा ढाल , मिकै दै सुनुक थाल।

काले कावा काले ………..

लै कावा पुरी , मिकै दै सुनुक छुरी।

काले कावा काले घुघुती माला खा ले लोक गीत का हिंदी अनुवाद –

इस लोक गीत में कौए के हिस्से के पकवान बहार रख कर एक-एक करके सारे भोज्य खाने के लिए आमंत्रित करते हैं। और बदले में अपने लिए मनपसंद कीमती चींजे मांगते हैं। जैसे – काले कव्वे काले घुघुत की बनी माला खा ले। ले कव्वे दाल बड़ा खा ले और मुझे सोने का घोडा दे दे। ले काले कव्वे पूरी खा ले। और मुझे सोने की छुरी दे दे। ले काले कव्वे भात खा ले और मुझे सोने  साम्राज्य दे दे।

इन्हे भी पढ़े –

घुघुतिया त्यौहार निबंध और घुघुतिया पर्व की शुभकामनाएं डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

प्यारी ईजा कुमाउनी लोक गीत के लिरिक्स पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

प्यारी जन्मभूमि मेरो पहाड़ गीत के लिए यहाँ क्लिक कीजिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *