Skip to content
Home » घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की, लिरिक्स | ghughuti ghuron lagi lyrics

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की, लिरिक्स | ghughuti ghuron lagi lyrics

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की एक प्रसिद्ध गढ़वाली गीत है । इस गीत को गया है, उत्तराखंड के प्रसिद्ध गायक, गढ़रत्न श्री नरेन्द्र सिंह नेगी और उत्तराखंड कोकिला श्रीमती मीना राणा जी ने । यह गीत चली भाई मोटर चली अल्बम का गीत है। इसके संगीतकार हैं ,श्री नरेन्द्र सिंह नेगी जी । और इस गीत के निमार्ता हैं T-Series कंपनी।

चैत का महीना पहाड़ों के लिए कुछ खास होता है। बसंत ऋतु आ जाती है, पेड़ों पर नई कोपलें खिलने लगती हैं। तरह -तरह की चिड़िया चहकने लगती है। और प्रकृति अपने सर्वश्रेष्ठ स्वरूप में होती है। प्रस्तुत गीत में नेगी जी ने पहाड़ की एक शादी शुदा लड़की का दर्द उकेरा है। घुघुती चिड़िया जो पहाड़ो में वियोग का स्वरूप मानी गई है। उसके स्वर को सुनकर एक लड़की को अपने मायके की याद आती है, और वो बोलती है, कि मेरे मायके की घुघुती आवाज देने लगी है।  बसंत ऋतु आ रही है। और पहाड़ो में बुरुश का फूल खिल गया होगा।

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की सांग लिरिक्स

घुघुती घुरोण लगी म्यारा मैत की …

बौड़ी-बौड़ी ऐगै ऋतु,ऋतु चैत की ।

घुघुती घुरोण लगी म्यारा मैत की..

बौड़ी-बौड़ी ऐगै ऋतु,ऋतु चैत की,

ऋतु,ऋतु चैत की..

डांणी कांठ्यूं को ह्यूं, गौली गै होलो ,

म्यारा मैता को बौण, मौली गै होलो ।

डांणी कांठ्यूं को ह्यूं, गौली गै होलो,

म्यारा मैता को बौण, मौली गै होलो।

चाकुला घोलू छोड़ि उड़णा ह्वाला,

चाकुला घोलू छोड़ी उड़णा ह्वाला ।

बैठुला मेतुड़ा कु, पैटणा ह्वाला ,

घुघुती घुरोण लगी हो…

घुघूती घुरूंण लगी म्यारा मैत की ,

बौड़ी-बौड़ी ऐगै ऋतु,ऋतु चैत की,

ऋतु, ऋतु चैत की

डाण्यूं खिलणा होला बुरसी का फूल,

पाख्यूं हैंसणी होली फ्योली मुल-मुल ।

डाण्यूं खिलणा होला बुरसी का फूल,

पाख्यूं हैंसणी होली फ्योली मुल-मुल ।

कुलारी फुल-पाति लैकि दैल्यूं- दैल्यूं जाला,

कुलारी फुल-पाति लेकी, दैल्यूं- दैल्यूं जाला ।

दगड़्या भग्यान थड़या-चौंफला लगाला ।।

घुघुती घुरोण लगी हो…

घुघूती घुरूंण लगी म्यारा मैत की ,

बौड़ी-बौड़ी ऐगै ऋतु,ऋतु चैत की,

ऋतु, ऋतु चैत की

तिबरि मां बैठ्या ह्वाला बाबाजी उदास,

बाटु हैनी होली मांजी लागी होली सास ।

तिबरि मां बैठ्या ह्वाला बाबाजी उदास,

बाटु हैनी होली मांजी लागी होली सास ।

कब म्यारा मैती औजी दिसा भैटि आला,

कब म्यारा मैती औजी, दिसा भैटि आला ।

कब म्यारा भै-बैंणों की राजि-खुशि ल्याला ।।

घुघुती घुरोण लगी हो…

घुघूती घुरूंण लगी म्यारा मैत की बौड़ी-बौड़ी ऐगै ऋतु ,ऋतु चैत की, ऋतु, ऋतु चैत की ।

ऋतु, ऋतु चैत की,

ऋतु, ऋतु चैत की ऋतु,

ऋतु चैत की ऋतु, ऋतु चैत की…

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की

Ghughuti ghuron lagi mera mait ki Song lyrics –

ghughutee ghuron lagee myaara mait kee … baudee-baudee aigai rtu,rtu chait kee . ghughutee ghuron lagee myaara mait kee.. baudee-baudee aigai rtu,rtu chait kee, rtu,rtu chait kee..

daannee kaanthyoon ko hyoon,

gaulee gai holo ,

myaara maita ko baun,

maulee gai holo .

daannee kaanthyoon ko hyoon,

gaulee gai holo, myaara maita ko baun, maulee gai holo.

chaakula gholoo chhodi udana hvaala, chaakula gholoo chhodee udana hvaala . baithula metuda ku, paitana hvaala ।।

baithula metuda ku, paitana hvaala , ghughutee ghuron lagee ho…

ghughootee ghuroonn lagee myaara mait kee ,

baudee-baudee aigai rtu,rtu chait kee, rtu, rtu chait kee ।।

daanyoon khilana hola burasee ka phool, paakhyoon hainsanee holee phyolee mul-mul . daanyoon khilana hola burasee ka phool, paakhyoon hainsanee holee phyolee mul-mul। kulaaree phul-paati laiki dailyoon- dailyoon jaala,

kulaaree phul-paati lekee, dailyoon- dailyoon jaala ।

dagadya bhagyaan thadaya-chaumphala lagaala ..

घुघुती घुरोण लगी मेरा मैत की, वीडियो देखने के लिए यहां देखे

इसे पढ़े या सुने- भगवान गणेश का सुन्दर भजन

उत्तराखंड में विषुवत संक्रांति। बिखोति त्योहार के बारे में।  पढ़े और यहां जाने।

Leave a Reply

Your email address will not be published.